श्रीमती सोनल वी मिश्रा, भा पु से

श्रीमती सोनल वी मिश्रा, भा पु से

पुलिस महानिरीक्षक, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल

पुलिस महानिरीक्षक का संदेश

फोटो गैलरी

उत्तर पूर्वी सेक्टर उत्तर पूर्वी सेक्टर

संदेश                   

                   

     मुझे केन्द्रीय रिर्जव पुलिस बल के पूर्वोत्तर सेक्टर मुख्यालय, शिलांग (मेघालय) का परिचय आपको कराते हुए अत्यन्त प्रसन्नता हो रही है। पूर्वोत्तर सेक्टर, केन्द्रीय रिर्जव पुलिस बल के सबसे पुराने सेक्टरों में से एक है । यह सेक्टर वर्ष- 1976 में सेक्टर -4 के नाम से अस्तित्व  में आया । तदन्तर 1987 में इसे पूर्वोत्तर नाम प्रदान् किया गया। तब से पूर्वोत्तर सेक्टर लगातार असम एवम् मेघालय में बल की तैनाती एवम् परिचालनों का पर्यवेक्षण कर रहा है। मैने 7 अगस्त-2020 को पूर्वोत्तर सेक्टर  का कार्यभार ग्रहण किया और स्वयं को गोरवशाली और गौरवान्वित महसूस करती हूँ।     

                 पूर्वोत्तर सेक्टर के परिचालिक नियंत्रणाधीन 02 परिचालन रेंज (रेंज गुवाहाटी एवम् परिचालन बोगईगाँव ), केरिपुबल की 10 बटालियनों एवम् 210 कोबरा तैनात है। इसके अलावा पूर्वोत्तर सेक्टर के प्रशासनिक नियंत्रणाधीन 03 रेंज ( रेंज गुवाहाटी, खटखटी एवम् सिलचर ), 03 ग्रुप केन्द्र (गुवाहाटी, खटखटी एवम् सिलचर), देश के विभिन्न भागों में तैनात 15 बटालियन, शस्त्र कर्मशाला-3 गुवाहाटी एवम्  शस्त्र कर्मशाला-5 खटखटी में अवस्थित हैं। इसके अलावा सिलचर में 50 बिस्तरों की क्षमता का एक सयुक्त अस्पताल भी हैं, जो इस में जवानों एवम् जवानों एवम् उनके परिवारों को चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराता है। रंगरूटों के प्रशिक्षण हेतु खटखटी में सभी सुविधाओं से युक्त एक से युक्त एक अतिरिक्त प्रशिक्षण केन्द्र हैं।

                 पूर्वोत्तर सेक्टर ने अपनी स्थापना से अब तक परिचान एवम् आसूचना संग्रह के क्षेत्र में लगातार उत्कृष्ट कार्य कर अपनी श्रेष्ठता सिद्ध  की है। इस क्षेत्र में तैनात बटालियनों द्वारा परिचानिक स्तर पर अर्जित सफलताएं उच्च पेशेवर क्षमता को दर्शाती हैं। इस सेक्टर ने हाल के वर्षो में विभिन्न कारणों से उत्पन्न हुई विषम परिस्थितियों को शांतिपूर्वक एवम् प्रभावी तरीके से दक्षता के साथ नियंत्रित किया । इसके अलावा सेक्टर द्वारा सिविक एक्शन प्रोग्राम के अंतर्गत दूरस्थ/दुर्गम क्षेत्रों में किए गए विभिन्न जन-कल्याणकारी कार्यक्रमों के माध्यम से आम-जनता और सुरक्षा बलों के बीच बेहतर समन्वय स्थापित हुआ है।    

Go to Navigation