श्री सतपाल ऱावत

श्री सतपाल ऱावत

पुलिस महानिरीक्षक त्रिपुऱा सैक्टर

आई. जी. पी. संदेश

फोटो गैलरी

त्रिपुरा सेक्टर त्रिपुरा सेक्टर

पुलिस महानिरीक्षक का संदेश

                                 मुझे त्रिपुरा सैक्टर की कमान संभालने और उसके समृद्ध विरासत की सेवा करने का अवसर मिला है, जो बहुत ही गर्व एवं सम्मान की बात है । सन् 1980 में जून माह के दौरान बड़े पैमाने पर त्रिपुरा राज्य में 1,300 आदिवासी और गैर आदिवासीयों के बीच आपसी जातिय दंगे हुए । जिसमें बड़े पैमाने पर आगजनी एवं संपत्तियॉ का नुकसान हुआ तथा बहुत लोग इसके शिकार हुए । राज्य में सुरक्षा परिदृश्य के मद्देनजर 1980 के दशक के उत्तरार्ध में त्रिपुरा राज्य में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की तैनाती की गई । केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल ने त्रिपुरा राज्य में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए कड़ी मेहनत की है ।  

          इसके बाद, बल के विस्तार और राज्य में विद्रोही गतिविधियों में वृद्धि के साथ, त्रिपुरा सैक्टर को 1997 में परिचालनिक सैक्टर के रुप में स्थापित किया गया और बाद में वर्ष 2004 में प्रशासनिक सैक्टर मे तब्दील कर दिया गया, अगरतला में मुख्यालय के साथ परिचालनिक नियंत्रण मे त्रिपुरा राज्य में तीन बटालियन और मिजोरम राज्य मे एक बटालियन है ।

          इस सैक्टर के प्रशासनिक नियंत्रण मे रेंज अगरतला, समूह केन्द्र, अगरतला के साथ 05 प्रशासनिक बटालियन हैं, जो देश के विभिन्न भागों मे तैनात है और वे अपनी कर्त्तव्यों का निर्वहन पूरी निष्ठा और समर्पण की भावना से राष्ट्र की अखण्डता को गर्व एवं सम्मान के साथ बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है ।

          गरीबों और जरुरतमंदो की मदद के लिए त्रिपुरा सैक्टर सबसे आगे है । समय-समय पर नागरिक आबादी को केरिपुबल द्वारा सभी सकारत्मक सहायता भी प्रदान की जाती है । त्रिपुरा और मिजोरम राज्य के विभिन्न क्षेत्र द्वारा किए गए सिविक एक्शन कार्यक्रमों ने वर्दी की मानवीय छवि को दर्शाने में काफी मदद की है और इन क्षेत्रों में जनता और बलों के बीच की खाई को पाटा है ।

          बल के अधिकारियों एवं जवानों को मेरी बधाई और शुभकामनाएं । मुझे विश्वास है कि बल राष्ट्र की सेवा के प्रति सदैव समर्पित रहेगा और आंतरिक सुरक्षा की चुनौतियों से निपटने के लिए अपना दृष्टिकोण विकसित करता रहेगा ।                                           

जय हिन्द ।

            

Go to Navigation